गातार बारिश के चलते कोशी बैराज के 56 में से 48 फाटक को खोल दिया गया है. बाढ़ की स्थिति अगले कुछ दिनों में और बिगड़ने की आशंका है, इसका कारण यह है कि नेपाल और बिहार के कई ज़िलों में लगातार बारिश का दौर जारी है.

बिहार में लगातार बाढ़ के कारण हालात लगातार बिगड़ते जा रहे हैं. पिछले तीन दिन से नेपाल में लगातार हो रही भारी बारिश की वजह से कोशी में बाढ़ का खतरा बढ़ा. यहां पानी का बहाव एक्सट्रीम डेंजर लेवल को पार कर गया है. लगातार बारिश के चलते कोशी बैराज के 56 में से 48 फाटक को खोल दिया गया है. बाढ़ की स्थिति अगले कुछ दिनों में और बिगड़ने की आशंका है, इसका कारण यह है कि नेपाल और बिहार के कई ज़िलों में लगातार बारिश का दौर जारी है. आपदा प्रबंधन विभाग के अनुसार 153 पंचायत में अभी तक तीन लाख से अधिक लोग बाढ़ के कारण प्रभावित हुए हैं.

कोशी बैराज नियंत्रण कक्ष के अनुसार, मंगलवार सुबह 10 बजे तक अनुसार, 3,40,380 क्यूसेक पानी प्रति सेकंड की दर से कोशी बैराज से छोड़ा जा रहा है.कोशी बैराज से बहने वाली धारा इस वर्ष सबसे अधिक है. स्थानीय प्रशासन ने लोगों से तटीय क्षेत्र में खास तौर पर सतर्कता बरतने का आग्रह किया है क्योंकि मंगलवार सुबह बाढ़ के पानी के खतरे के स्तर को पार कर गया है. कोशी में, पश्चिमी तटबंध के साथ बिहार के कई जिलों में बाढ का खतरा और अधिक बढ़ गया है.

नेपाल में अगले 5 दिन तक भारी बारिश की चेतावनी ने चिंता को और बढ़ा दिया है. आपदा प्रबंधन विभाग के अनुसार अभी तक तीन लाख से अधिक लोग बाढ़ से प्रभावित हुए हैं. बाढ़ प्रभावितों के लिए अभी तक सरकार ने पांच राहत शिविर और पांच जिलों में 29 कम्‍युनिटी किचन की शुरू किए हैं.

Banner Content
Tags: , ,

Related Article

0 Comments

Leave a Comment

FOLLOW US

GOOGLE PLUS

PINTEREST

FLICKR

INSTAGRAM

Advertisement

img advertisement

Social