सहकारिता मंत्री अरविंद भदौरिया, मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, जल संसाधन मंत्री तुलसी सिलावट के बाद अब पिछड़ा वर्ग एवं अल्पसंख्यक कल्याण राज्यमंत्री रामखेलावन पटेल भी कोरोना संक्रमित

मध्यप्रदेश के सहकारिता मंत्री अरविंद भदौरिया, मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान  के बाद जल संसाधन मंत्री तुलसी सिलावट भी कोरोना संक्रमित हो गए हैं. इनके अलावा बीजेपी संगठन में भी कुछ नेता कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं, जिसमें बीजेपी अध्यक्ष वीडी शर्मा और प्रदेश महामंत्री संगठन सुहास भगत भी शामिल हैं. ये वो नेता हैं जो लगातार जनसंपर्क करते, हजारों लोगों से मिलते जुलते देखे गए हैं, उस राज्य में जहां 29,217 लोग संक्रमित हो चुके हैं, 830 की मौत हो चुकी है.

पहले सहकारिता मंत्री अरविंद भदौरिया, फिर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, फिर जल संसाधन मंत्री तुलसी सिलावट और अब पिछड़ा वर्ग एवं अल्पसंख्यक कल्याण विभाग के राज्यमंत्री रामखेलावन पटेल कोरोना संक्रमित हो गए हैं. कोरोना काल में गले में गमछा लटकाए अरविंद भदौरिया अपने क्षेत्र में लोगों से मिलते जुलते रहे. मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान भी कई जिलों में लोगों से मिल आए. 25 जुलाई को मुख्यमंत्री से मुलाकात के बाद बाकी नेता क्वारेंटाइन हो गए थे, लेकिन सिलावट ने करीब साढ़े तीन हजार लोगों से मुलाकात की.

पटेल भी अपने इलाके में लोगों से मिलते रहे, सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां उड़ती रहीं.

कुल मिलाकर राज्य में मुख्यमंत्री के अलावा 3 मंत्री, 9 विधायक और कई अधिकारी संक्रमित हैं, लेकिन सरकार को लगता है नेताओं को अलग करना ठीक नहीं है. चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग ने कहा सभी लोगों को प्रोटोकॉल का ध्यान रखना चाहिये लेकिन सिर्फ नेताओं पर इल्जाम लगा दें यदि इस दिशा में मामले को लेकर जाएंगे तो फोकस बदलेगा.

कांग्रेस के नेता भी जमकर सड़क पर उतर रहे हैं, उसके विधायक भी संक्रमित हैं. सरकार पर वो ऑनलाइन, ऑफलाइन हर तरीके से हमलावर है. पूर्व मंत्री जीतू पटवारी ने कहा प्रधानमंत्री अपील करते थे सोशल डिस्टेंसिंग अपनाना है. बीजेपी नेता वर्चुअल रैली कर रहे थे, देश के प्रधानमंत्री जितने गंभीर थे वो ढकोसला था जो बीजेपी ने किया वो भी देश ने देखा चुनावी कार्यक्रम चलते रहे, कैबिनेट चलता रहा, कोरोना फैलता रहा.

कांग्रेस प्रवक्ता नरेन्द्र सलूजा ने कहा प्रदेश के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा पर कोरोना के नियमों का पालन नहीं करने पर जब तक कोई दंडात्मक कार्रवाई ना हो, तब तक प्रदेश के किसी भी नागरिक पर नियमों के उल्लंघन को लेकर कोई भी कार्रवाई नहीं होना चाहिए.  मंत्री नरोत्तम मिश्रा को कोरोना के नियमों का पालन कराने वाले व्यक्ति को कांग्रेस देगी 11000 का नगद इनाम.

देश में पहली बार मध्यप्रदेश में वर्चुअल कैबिनेट बैठक हुई, बीजेपी ने ऑनलाइन चुनावी सभाएं भी कीं  लेकिन उपचुनावों के वक्त जनता से मिलने का मोह नेताजी छोड़ नहीं पा रहे हैं.

Banner Content
Tags: , , ,

Related Article

0 Comments

Leave a Comment

FOLLOW US

GOOGLE PLUS

PINTEREST

FLICKR

INSTAGRAM

Advertisement

img advertisement

Social