कई दिग्गज खिलाड़ियों, प्रशासकीय अधिकारी और पत्रकारों की सदस्यत वाली चयन समिति ने क्रिकेटर रोहित शर्मा को राजीव गांधी पुरस्कार के लिए चुना है. रोहित के अलावा टेनिस खिलाड़ी मनिका  पत्रा, महिला पहलवान विनेश फोगाट और थंगावेलू को भी खेल रत्न से नवाजा गया है. देश के सर्वोच्च खेल रत्न पुरस्कार के इतिहास में यह पहला मौका है, जब एक साथ चार खिलाड़ियों को संयुक्त रूप से खेल रत्न पुरस्कार के लिए चुना गया है. फिलहाल नई दिल्ली के जवाहर लाल नेहरू स्टेडियम में चयन समिति की बैठक जारी है और समय गुजरने के साथ ही जल्द अर्जुन पुरस्कार विजेता खिलाड़ियों के नाम भी आपके सामने होंगे. बता दें कि पुरस्कार के इतिहास में खेल रत्न अवार्ड पाने वाले रोहित शर्मा सिर्फ चौथे भारतीय क्रिकेटर होंगे. इससे पहले सचिन तेंदुलकर (1997-98), एमएस धोनी (2007), विराट कोहली (2018) को इस प्रतिष्ठि अवार्ड से नवाजा गया था.

बता दें कि यह पुरस्कार किसी खिलाड़ी को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर पिछले चार साल के भीतर किए गए प्रदर्शन के आधार पर दिया जाता है. और प्रशस्ति-पत्र, शॉल के अलावा खिलाड़ी को 7.50 लाख रुपये नगद दिए जाते हैं. इस पुरस्कार की स्थापना पूर्व प्रधानमंत्री की स्मृति में साल 1991-92 में की गई थी.

रोहित शर्मा ने अपने करियर में कई मुकाम हासिल किए हैं. बता दें कि रोहित ने अपने इंटरनेशनल करियर का आगाज आयरलैंड के खिलाफ साल 2007 में किया था. अपने करियर में रोहित ने अबतक 6 टेस्ट शतक, 29 वनडे शतक और 4 टी-20 इंटरनेशनल शतक जमा चुके हैं. रोहित ने वनडे में पहला शतक 2010 में जिम्बाब्वे के खिलाफ  बुलावायो में जमाया था. वर्ल्ड कप 2019 में भारत के लिए 5 शतक ठोके

Banner Content
Tags: ,

Related Article

No Related Article

0 Comments

Leave a Comment

FOLLOW US

GOOGLE PLUS

PINTEREST

FLICKR

INSTAGRAM

Advertisement

img advertisement

Social