By Administrator_India

Capital Sands

शेयर बाजार में सोमवार यानी 20 दिसंबर, को जबरदस्त गिरावट आई है. कोरोनावायरस के नए वेरिएंट ओमिक्रॉन के डर के बीच वैश्विक बाजारों में बिकवाली देखी गई जिसके बाद बीएसई सेंसेक्स आज 1,300 से ज्यादा अंकों से नीचे लुढ़क गया. सुबह 10.30 बजे  बीएसई सेंसेक्स में 1,349.16 अंकों या 2.37% की गिरावट दर्ज हो रही थी और इंडेक्स 55,662.58 के लेवल पर था. वहीं, इस दौरान एनएसई निफ्टी 382.20 अंकों या 2.25% की गिरावट लेकर 16,603 के लेवल पर चल रहा था.

सुबह 9.44 पर बेंचमार्क इंडेक्स में 1,142.88 अंकों या सीधे 2.00% की गिरावट के साथ 55,868.86 अंकों पर आ गया. वहीं एनएसई निफ्टी में इस दौरान 318.40 अंकों या 1.87% की गिरावट दर्ज हो रही थी. इंडेक्स 16,666.80 अंकों के स्तर पर आ गया. आज बाजार खुला ही बड़ी गिरावट के साथ था. शुरुआती कारोबार में सेंसेक्स 848.06 अंक गिरकर 56, 163.68 पर चल रहा था, वहीं निफ्टी 257.85 अंक टूटकर 16,727.35 पर आ गया था.

ओमिक्रॉन के चलते यूरोपीय देशों में एक बार फिर से प्रतिबंध लगाए जा रहे हैं. हॉलीडे सीज़न में एक बार फिर से ग्लोबल अर्थव्यवस्था को झटका लगने का डर है. ऐसे में बाजार लगातार नकारात्मक रुख के साथ चल रहे हैं. एशियाई बाजार भी आज गिरावट में था.

शेयर बाजार के अस्थाई आंकड़ों के मुताबिक विदेशी संस्थागत निवेशकों  ने शुक्रवार को सकल आधार पर 2,069.90 करोड़ रुपये के शेयर बेचे. इस बीच अंतरराष्ट्रीय तेल बेंचमार्क ब्रेंट क्रूड 2.45 प्रतिशत गिरकर 71.72 डॉलर प्रति बैरल पर आ गया.

बता दें कि आखिरी कारोबारी सत्र यानी बीते शुक्रवार को भी बाजार में बड़ी गिरावट दर्ज हुई थी. सेंसेक्स-निफ्टी बड़ी गिरावट लेकर बंद हुए थे. सेंसेक्स 889.40 अंक या 1.54 प्रतिशत की गिरावट के साथ 57,011.74 पर बंद हुआ था. इसी तरह निफ्टी 263.20 अंक या 1.53 फीसदी की गिरावट के साथ 16,985.20 पर बंद हुआ था.

कई देशों के केंद्रीय बैंकों ने मौद्रिक नीति में कड़ा रुख अपनाने के संकेत दिए हैं, वहीं, ओमिक्रॉन के जबरदस्त तेजी से बढ़ते मामलों को देखते हुए निवेशकों की धारणा प्रभावित हुई है. निवेशक जोखिम वाली संपत्ति में निवेश से दूरी बना रहे हैं, ऐसे में बाजार में गिरावट दर्ज हो रही है.

Banner Content
Tags: ,

Related Article

0 Comments

Leave a Comment

FOLLOW US

GOOGLE PLUS

PINTEREST

FLICKR

INSTAGRAM

Advertisement

img advertisement

Social